नई दिल्ली ,दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) को लेकर कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के उम्मीदवारों की सूची शुक्रवार को जारी हो सकती है। दिल्ली में उम्मीदवारों को लेकर दोनों दलों में शीर्ष नेताओं की बैठक गुरुवार को हुई है। बीजेपी दफ्तर में देर रात तक केंद्रीय कमेटी की बैठक हुई। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कई लोग शामिल हुए थे।

इससे पहले कांग्रेस पार्टी की भी अहम बैठक हुई। कहा जा रहा है कि बैठक में उम्मीदवारों के नाम पर कोई अंतिम फैसला नहीं हो पाया है। अब राज्य के नेताओं का कहना है कि शुक्रवार को दोपहर बाद कांग्रेस की सूची जारी हो सकती है। सूत्रों की माने तो कई सीटों पर नामों को लेकर अभी अंतिम फैसला नहीं हो पाया है।
 
कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व ने इस बार दिल्ली के सभी वरिष्ठ नेताओं को चुनाव लड़ने का निर्देश दिया है। मगर पार्टी के कुछ नेता जिन सीटों पर टिकट मांग रहे है, वहां पहले से दावेदारों की नजर है। इसके चलते पार्टी ने अभी तक उसपर कोई अंतिम फैसला नहीं किया है। माना जा रहा है कि शुक्रवार को पार्टी नेतृत्व दोबारा इसपर विचार करने के बाद ही कोई अंतिम फैसला लेगा और प्रत्याशियों की सूची जारी करेगा।

वहीं, बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की गुरुवार रात हुई बैठक में दिल्ली विधानसभा के चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम पर विचार किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हुई इस बैठक की अध्यक्षता पार्टी प्रमुख अमित शाह ने की। बैठक में पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, सैयद शाहनवाज हुसैन आदि उपस्थित थे।

दिल्ली की 70 सीटों वाली विधानसभा के चुनाव आठ फरवरी को होंगे और नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। चुनाव में भाजपा का मुकाबला सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) से है। आप ने पहले ही अपने सभी उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है।